निमोनिक का इस्तेमाल
श्रेणी विधि
जैसे रेलगाड़ी से सामान ले जाने के लिए सारे डिब्बों को आपस में और इंजन से जोड़ दिया जाता हैं, उसी तरह से हम सूचनाओं को एक क्रम में रेल के डिब्बों कि तरह आपस में जोड़कर याद रख सकते हैं
उदहारण – मान लीजिये हमें यह क्रम याद रखना है , फोटोफ्रेम, स्कूटर, खिड़की, तितली, सांप, तलवार, अध्यापक, सोफा, शेर, मिठाई .
दोहराने की बजाय हम इन्हें आपस में जोड़कर एक दृश्य की कल्पना के रूप में याद कर सकते हैं | कल्पना करें एक फोटोफ्रेम है, उसमें स्कूटर का चित्र है, उसके नीचे एक खिड़की है, जिसमें से तितली आई, जो सांप का पीछा कर रही है , सांप के मुंह में एक तलवार है, जिससे अध्यापक दर गए और सोफा के नीचे छिप गए . उस सोफे पर एक शेर है जो मिठाई खा रहा है . हो गया ना एक बार में पढ़ते ही याद, यह विधि क्रम वाले उत्तर याद करने में कारगर है

पर्सनल मीनिंग सिस्टम
यह विधि किन्ही दो सूचनाओं को तेज़ी से याद करती है . इसमें सूचनाओं को उनके नाम से बनने वाली एक नयी दृश्यात्मक कल्पना में बदल दिया जाता है .
उदहारण :

आविष्कार आविष्कारक आविष्कार आविष्कारक

टाइपराइटर शॉल्स रिवाल्वर कोल्ट
स्टीम बोट फुल्टन लिफ्ट ओटिस

1) आपने शॉल्स को बनाया शॉल और टाइपराइटर को शॉल से लपेट दिया है तो याद रहेगस टाइपराइटर के आविष्कारक शॉल्स हैं .
2) इसी तरह रिवाल्वर – कोल्ट, कोल्ट से बनाया कोट . अब कल्पना कारण की आपने रिवाल्वर कोट की जेब में रख दिया है . कोट से कोल्ट हमेशा याद रहेगा .
3) स्टीम बोट – फुलटन, फुल्टन से बनाया फूल + टन. एक स्टीम बोट है जिसमें एक टन फूल भरे हैं .
4) लिफ्ट – ओटिस , ओटिस का ऑफिस हो सकता है और लिफ्ट ऑफिस में होती है बस हो गया याद .

संक्षिप्तीकरण विधि :-
यह इतिहास के बिंदु याद रखने में बड़ी कारगर है . इसमें हर बिंदु के पहले अक्षर को जोड़कर वाकया बनाया जाता है . उदहारण – यह वाकया पढ़ें …
हसीना मोकुगुप्त है और पूरा गुलाम खता से लो देहली मुगलम
यह अटपटा सा वाकया वास्तव में इतिहास के फराजवंशों का क्रम है ….
ह – हर्यक वंश , सी – शिशुनाग वंश , ना – नन्द वंश , मो – मौर्या वंश , कु – कुषाण वंश , गुप्त – गुप्त वंश , है व – हर्षवर्धन वंश , पू – पुष्यभूति वंश , रा – राष्ट्रकूट वंश , गुलाम – गुलाम वंश , ख – खिलजी वंश , ता – तुग़लक़ वंश , से – सैयद वंश , लो – लोधी वंश , देहली – देहले सल्तनत , मुगलम – मुग़ल सल्तनत .

और इस प्रकार से निमोनिक में हर विषय को याद करने के कई तरीके हैं जो परीक्षा को खेल बना देते हैं .

निमोनिक का विषयों में इस्तेमाल
अंग्रेजी – अंग्रेज़ी में शब्दार्थ याद रखने में बड़ी कठिनाई होती है. शब्दार्थ याद करने के लिए पीएमएस एडवांस मेथड में काम आता है . जैसे कुछ शब्द हमें याद करने हैं –
1. एक्रोफोबिया – ऊंचाई से डर
2. कैपेशियस – बहुत बड़ा
3. फैरत – ढूंढना

पहला शब्द था एक्रोफोबिया . इसका काल्पनिक मतलब हमने बनाया ए प्लस क्रो प्लस फोबिया . ए और क्रो को दुबारा बोलने पर दिमाग में आया ए क्रो यानि एक कौआ. अब इस काल्पनिक चित्र को वास्तविक अर्थ से जोड़ना है . कल्पना कीजिये की आपको एक कौआ उठाकर ले जा रहा है और इतनी ऊंचाई पर ले जाता है की आपको डर लगने लगता है , हो गया ना याद .

कैपेशियस का काल्पनिक चित्र हो सकता है कैप . कल्पना कीजिये की आप का कैप काफी बड़ा हो गया है और आप उसे पहन रहे हैं तो उसमे छिप गए है . यह याद हो गया .

फेरट से काल्पनिक चित्र बन सकता है पैरट यानि तोता . कल्पना कीजिये एक तोता हाथ में दूरबीन लेकर कुछ ढूंढ रहा है . इस तरह आप पूरी डिक्शनरी याद कर सकते हैं .

 

Related posts

Brainywood India Cross the Boundaries : MOU Signed between Brainywood India and Prones Asia Group, Chairman Mr. Manimaran Suppiah.

Brainywood India and Prones Asia Group, led by Dr. Vinod Sharma and Chairman Mr. Manimaran Suppiah respectively, have signed an MOU for collaborative innovation in education and technology. The partnership aims to integrate Brainywood's brain science techniques with Prones...

Read More

Leave a Comment

© 2021-22 Vinod Sharma. All Rights Reserved
Website managed and promoted by Accentuate e Services P Ltd.